Advertisement
Categories: Uncategorized

बाइबिल को गहराई से जानना

Spread the love

Psalm 91 Book

क्या आप बाइबिल को गहराई से जानना चाहते हो ?
Advertisement

बाइबिल को गहराई से जानिए

बाइबिल को गहराई से जानना इस  क्लास में हम लोग बाइबिल के विषय में हम लोग गहराई से जानेगे
१) बाइबिल क्या है ?
२) बाइबिल के अध्याय कौनसे है ?
३) बाइबिल किसने लिखी है ?
४) परमेश्वर की योजना क्या है
५) बाइबिल को कैसे पढ़ा जाये ?

बहोत से लोगो को बाइबिल का अध्ययन करने का बहुत मन रहता है, लेकिन कुछ कारणो के वजह से वह लोगो इसे कर नही पाते है। 

बाइबिल को अगर हमे समझना है तोह हमे पवित्र आत्मा जो हमारा सहायक है उसकी मदद लेनी होगी।

बाइबिल के वचनो में बहुत गहराई की बाते है जो हमे समझना है। 

इस क्लास में हम लोग बाइबिल को सीखेंगे और समझेंगे। 

हमे जानना है की बाइबिल का अर्थ क्या है। 

सम्पूर्ण बाइबिल अध्ययन करना है। 

पुराने और नए नियम की कुछ खास बातो को समझना है। 

बाइबिल के वचन हमारी जिंदगी में कैसे लागु किया जाए इस विषय में जानना है। 

बाइबिल के अलग अलग ट्रान्सलेशन्स क्यों है और इनका क्या उपयोग है। 

और कुछ विषय बाइबिल को गहराई से जानना इस क्लास में समझ ने के लिए।

१) युवको के लिए बाइबिल अध्ययन 

२) महिलाओ के लिए बाइबिल अध्ययन 

३) पुरुषो के  लिए बाइबिल अध्ययन 

४) विषय के अनुसार बाइबिल अध्ययन 

५) दृष्टांत के अनुसार बाइबिल अध्ययन 

६) यीशु मसीह के पुनरागमन के विषय में बाइबिल अध्ययन 

७) भविष्यवाणी के अनुसार बाइबिल अध्ययन 

८) व्यक्ति के बारे में बाइबिल अध्ययन 

९) किताबो के बारे में बाइबिल अध्ययन 

१०) पति और पत्नी के लिए बाइबिल अध्ययन 

११) माता और पिता के लिए बाइबिल अध्ययन 

इन सारे सवालो का जवाब हमे  क्लासेस में मिलेंगे |

अधिक जानकारी के लिए हमे संपर्क करे |

Email : samarpan.thorat@gmail.com

प्रभु की स्तुति हो।  यीशु मसीह के नाम से आमेन। 

समर्पण थोरात 

 

 

Psalm 91 Book

कुछ और ब्लॉग जो आप पढ़ सकते है।

क्रिसमस डे क्यों मनाया जाता है ?

हिंदी बाइबिल स्टडी

भजन संहिता 117 मे क्या विशेषता है?


Spread the love
samarpan.thorat@gmail.com

Recent Posts

निर्गमन- ३४:१-९ मुख्य वचन ८ -९

हमारा परमेश्वर जो दयावान और अनुग्रहकारी है, धीरजवन्त और भलाई और सत्य है उसकी स्तुति… Read More

14 hours ago

यूहन्ना- ५:१९-३०

सारी स्तुति और महिमा हमारे उधारकर्ता प्रभु यीशु मसीह की है। आमेन आज का वचन… Read More

15 hours ago

सभोपदेशक- १२:१३-१४

१३ सब कुछ सुना गया; अन्त की बात यह है कि परमेश्वर का भय मान… Read More

15 hours ago

१ शमूएल३:१९

१ शमूएल३:१९ -और शमूएल बड़ा होता गया, और यहोवा उसके संग रहा, और उसने उसकी… Read More

15 hours ago

गिनती– ३२:८-१५

८ जब मैं ने तुम्हारे बापदादों को कादेशबर्ने से कनान देश देखने के लिये भेजा,… Read More

16 hours ago

यूहन्ना- ५:३०

मैं अपने आप से कुछ नहीं कर सकता; जैसा सुनता हूं, वैसा न्याय करता हूं,… Read More

16 hours ago