Advertisement
Categories: Uncategorized

यीशु मसीह

Spread the love

अनुक्रम

इस ब्लॉग में हम लोग यीशु मसीह के विषय में जानकारी लेंगे।

बहोत से लोग यीशु मसीह कौन है इस विषय में जानना चाहते है।

सारी  दुनिया जानती है की प्रभु यीशु मसीह परमेश्वर के एकलौते पुत्र है।  बाइबिल में युहन्ना ३:१६ वचन इस बात की गवाही देता है।

Advertisement

यीशु इस शब्द को इब्रानी भाषा में येशुआ कहा जाता है, जिसका मतलब है उद्धारकर्ता।

मसीह इस शब्द का मतलब है छुड़ानेवाला या फिर बचानेवाला।

Psalm 91 Book

Psalm 91 E Book

यीशु मसीह कौन है ?

जब हम बाइबिल में देखते है की यीशु मसीह का बपतिस्मा हुआ तब स्वर्ग से पिता परमेश्वर ने कहा यह मेरा पुत्र है।

इस बात से हम लोग समझ सकते है की यीशु मसीह परमेश्वर के पुत्र है।

सृष्टि की रचना परमेश्वर ने वचन से की और बाइबिल हमे सिखाती है की यीशु मसीह वचन है (यूहन्ना १:१ से १४ )

कुछ लोग यीशु को नबी भी मानते है लेकिन सच बात यह है की यीशु त्रिएक परमेश्वर में से एक परमेश्वर है। 

Psalm 91 Book

Psalm 91 E Book

यीशु मसीह की प्रार्थना

बाइबिल के अनुसार जब यीशु के चेले यीशु के पास आए , और प्रार्थन कैसे करनी  है पूछा।

तब यीशु मसीह ने प्रार्थना करना सिखाया

वह इस तरह है – “हे हमारे पिता, तू जो स्वर्ग में है; तेरा नाम पवित्र माना जाए। तेरा राज्य आए; तेरी इच्छा जैसी स्वर्ग में पूरी होती है, वैसे पृथ्वी पर भी हो। हमारी दिन भर की रोटी आज हमें दे। और जिस प्रकार हम ने अपने अपराधियों को क्षमा किया है, वैसे ही तू भी हमारे अपराधों को क्षमा कर। और हमें परीक्षा में न ला, परन्तु बुराई से बचा; क्योंकि राज्य और पराक्रम और महिमा सदा तेरे ही हैं।” आमीन। मत्ती ६:९ से १३

जब प्रार्थना की बात आती है तब यीशु मसीह की प्रार्थना का बहोत हार जिक्र होता है।

उपवास और प्रार्थना यीशु मसीह के द्वारा।

गतसमनी बाग़ में यीशु मसीह की प्रार्थना।

लोगो को चंगाई देने के समय यीशु मसीह की प्रार्थना।

और मुर्दो को जिन्दा करते वक़्त यीशु मसीह की प्रार्थना।

२ मछली और ५ रोटी को आशीषित करने के लिए यीशु मसीह की प्रार्थना।

Psalm 91 Book

Psalm 91 E Book

हम देखेंगे यीशु मसीह गाना

१) यीशु है सच्चा गडरिया

२) यीशु है कैसा कुंभार भैया

३) राजा यीशु

४) यीशु तू अच्छा है

५) यीशु बुलाता तुम्हें

६) यीशु है कमाल का

७) 1234 येशु तेरी जय जयकार

८) यीशु है पालनहार

९) यीशु दयासागर

१०) यीशु मसीह देता ख़ुशी

Psalm 91 Book

Psalm 91 E Book

कहा पे है यीशु मसीह के वचन

बाइबिल में हम लोग यीशु मसीह के वचन नए नियम में सुसमाचार की पुस्तकों में पा सकते है।

सुसमाचार की पुस्तके

मत्ती

मरकुस

लुका

युहन्ना

सबसे ज्यादा पसंदीदा वचन जो यीशु मसीह के है उन्हें पहाड़ी उपदेश कहा जाता है। पहाड़ी उपदेश मत्ती  की किताब में अध्याय ५ से ७ में लिखे गए  है।

Psalm 91 Book

Psalm 91 E Book

यीशु मसीह वीडियो

यीशु मसीह वीडियो

यीशु मसीह फोटो

अगर आप यीशु मसीह की फोटो देखना चाहते हो तोह यह संभव नहीं है।

जितने भी फोटो आप यीशु मसीह के देखते हो वह किसी न किसी इंसान के है।

हमे यीशु के फोटो की आराधना नही करनी है।

यीशु मसीह ने कहा है धन्य वे है जो मुझे बिना देखे अपनाते है। 

Psalm 91 Book

Psalm 91 E Book

यीशु की आराधना

हम लोग मिल के यीशु मसीह की आराधना कर सकते है।

निचे कुछ आराधना के गीत दिए गए  है आप उन्हें लेकर आराधना कर सकते है।

यीशु मसीह तेरे जैसा है कोई नहीं

उद्धार है चंगाई है रिहाई है यीशु नाम

मुक्ति दिलाय यीशु नाम

जय यीशु जय यीशु

तेरे मार खाने से यीशु मैंने शिफा पायी है।

तू मेरा शरणस्थान

तेरी आराधना करू

शुक्रिया यीशु तेरा

Psalm 91 Book

Psalm 91 E Book

यीशु मसीह फोटो डाउनलोड

हमे किसी भी तरीके से यीशु के फोटो को नही अपनाना चाहिए।

फोटो डाउनलोड ना करे तोह बेहतर होगा।

यह इसलिए है क्यूंकि परमेश्वर फोटो में नही हमारे दिल में है।

यीशु मसीह

यीशु मसीह की कहानी

अगर आप को यीशु मसीह की कहानी को जानना है तोह आप को बाइबिल में नया नियम पढ़ना होगा

सुसमाचार के पुस्तके मत्ती , मरकुस , लुका , युहन्ना

आप को इन सारी पुस्तकों में यीशु मसीह की कहानी  के बारे में जानकारी मिलेगी।

Psalm 91 Book

Psalm 91 E Book

यीशु मसीह के गुरु के नाम बताएं

इस दुनिया में यीशु मसीह के कोई इन्सान गुरु नहीं थे।

यीशु मसीह ने युहन्ना बपतिस्मा लेने वाले से बपतिस्मा लिया था।

लेकिन यीशु ने अगर किसी को गुरु कहा है तोह वह सिर्फ पवित्र आत्मा है।

Psalm 91 Book

Psalm 91 E Book

बाइबल के आधार पर यीशु मसीह के वैज्ञानिक संदेश कोन सा है ?

अगर हम बाइबिल में देखे तो यीशु मसीह ने कोई भी वैज्ञानिक संदेश नहीं दिया

लेकिन यीशु मसीह ने विज्ञान को चुनौती जरूर दी

निचे में यीशु मसीह के चमत्कार को बता रहा हु जो विज्ञान  को चुनौती देते है।

यीशु मसीह के चमत्कार

१) पानी को दाकरस बनाना

२) मुर्दो को जिलाना

३) अन्धो को दॄष्टि देना

४) गूंगो को बोलता करना

६) लँगड़ो को चलता करना

७) २ मछली और ५ रोटी से हज़ारो लोगो को खाना खिलाना

८) खुद का पुनरुथान

और ऐसे कई चमत्कार है जो यीशु मसीह ने किये है अगर हम उन्हें लिखने जाये तोह दुनिया की किताबे पूरी नहीं होगी। 

Psalm 91 Book

Psalm 91 E Book

यीशु मसीह के दिन होने और उनके सेहेनशील होने के विषय मे बाइबिल क्या बताती है?

क्योंकि जो कोई अपने आप को बड़ा बनाएगा, वह छोटा किया जाएगा; और जो कोई अपने आप को छोटा बनाएगा, वह बड़ा किया जाएगा।” लूका १४ : ११

यह वचन यीशु मसीह के है।

इस वचन से हम लोग समझ सकते है की यीशु मसीह की शिक्षा नम्र होने पर है। 

पतरस ने यीशु को कितनी बार इनकार किया था बाइबल से उत्तर दीजिये और कौन से अध्याय में है ?

पतरस ने यीशु मसीह का ३ बार  इनकार किया था।

बाइबिल वचन लूका २२ : ५४ से ६२

Psalm 91 Book

Psalm 91 E Book

यीशु मसीह इस पृथ्वी पर क्यों आए?

यीशु मसीह इस पृथ्वी पर पापियों को उद्धार देने आये।

उन्हें अनंत जीवन दिलाने आये।

परन्तु परमेश्‍वर हम पर अपने प्रेम की भलाई इस रीति से प्रगट करता है, कि जब हम पापी ही थे तभी मसीह हमारे लिये मरा। तो जब कि हम, अब उसके लहू के कारण धर्मी ठहरे, तो उसके द्वारा परमेश्‍वर के क्रोध से क्यों न बचेंगे? रोमियो ५: ८-९

यीशु मसीह को इस्राएल का महाराजा किसने कहा ?

यीशु मसीह को यहूदियों का राजा इस बात का उल्लेख यूहन्ना १९:२० में लिखा है जिसे पिलातुस  लिखवाया था।

रोम के सैनिको ने भी यीशु को यहूदियों का राजा कहा था (लुका २३:३७)

और यहूदी अगुओ ने भी यीशु मसीह को यहूदियों का राजा कहा था ( मत्ती २७:४२)

क्या परमेश्वर और प्रभु यीशु और पवित्र आत्मा अलग अलग हे?

पिता परमेश्वर ,  प्रभु यीशु और पवित्र आत्मा तीनो अलग है।

हम इसे त्रिएक परमेश्वर कहते है।

सन्दर्भ के लिए के लिए बाइबिल वचन

मत्ती २८:१९

२  कुरिन्थियों १३ : १४

यीशु यीशु मसीह ने कितने दृष्टांत कहें?

लुका के किताब में २४ दृष्टांत

मत्ती के किताब में २३ दृष्टांत

मरकुस के  किताब में ८ दृष्टांत के कितने दृष्टांत कहें?

कब हुआ यीशु मसीह का जन्म ?

आज से २००० साल पहले ४ बी.सी. इस्रायल में यीशु मसीह का जन्म हुआ।

क्यों चढ़ाया गया यीशु मसीह को क्रूस पर ?

बाइबिल पंडितो के के अनुसार यीशु मसीह को   क्रूस पर ए.डी. ३० को चढ़ाया गया था।

क्यूंकि जगत का पाप यीशु मसीह ने अपने ऊपर ले लिया।

सारे लोगो को पाप आजाद किया है।

कहा है यीशु मसीह की कब्र ?

यीशु मसीह  की कब्र इस्रायल में है।

क्या है यीशु मसीह का अर्थ ?

यीशु मसीह का अर्थ है उधारकर्ता छुड़ानेवाला।

में आशा करता हु आप यह जानकारी से मदद मिली होंगी।

प्रार्थना

प्रभु यीशु मसीह में आपका धन्यवाद देता हु की आपने हमारे लिए अपनी जान दे दी। हमे हमारे पापो से आजाद किया। प्रभु हमे माफ़ करना और आपके वचनो को समझने बुद्धि देना।

यीशु मसीह के नाम से प्रार्थना करते है। आमेन।

समर्पण थोरात

Psalm 91 Book

Psalm 91 E Book


Spread the love
samarpan.thorat@gmail.com

View Comments

Recent Posts

Ibadat Karo Uski Song Lyrics

Ibadat Karo Uski Song Lyrics ए दुनिया के लोगो ऊँची आवाज़ करो गाओ ख़ुशी के… Read More

12 hours ago

Haath Uthaakar Gaoonga Lyrics

Haath Uthaakar Gaoonga Lyrics येशु मसीह भरोसा मेरातू ही सहारा है मेरामुश्किल समय में तू… Read More

2 days ago

Teri Aaradhna Karu Song Lyrics

Teri Aaradhna Karu Song Lyrics तेरी आराधना करूँतेरी आराधना करूँपाप क्षमा कर, जीवन दे देदया… Read More

6 days ago

Chattan Song Lyrics

Chattan Song Lyrics भवर के बिच मै ,तू कहता है थमजातू मेरी ताकत ,है तू… Read More

1 week ago

Aao Pavitra Aatma Song Lyrics

Aao Pavitra Aatma Song Lyrics आओ पवित्र आत्मा  हम करे स्वागत तुम्हारा आओ यीशु मसीहा … Read More

1 week ago

Us Krus Ki Kya Baat Hai Song Lyrics

Us Krus Ki Kya Baat Hai Song Lyrics उस क्रूस की क्या बात है जिसने… Read More

1 week ago