नीतिवचन-१०:१७

१७ जो शिक्षा पर चलता वह जीवन के मार्ग पर है, परन्तु जो डांट से मुंह मोड़ता, वह भटकता है:… Read More

5 months ago

फिलिप्पियों- ४:१९

आज का वचन हमारी आत्माओं के लिए जीविका का एक सुशोभित वचन है विशेष रूप से इस समय के लिए… Read More

5 months ago

मत्ती- १०:१६-२०

हम वास्तव में दिलचस्प समय में रहते हैं और निश्चित रूप से इस तरह के एक दिलचस्प वचन के लिए… Read More

5 months ago

यशायाह- ४०:१०-११ और २७-३१

प्रभु यीशु मसीह की स्तुति हो।कृपया यशायाह की पुस्तक से उपर्युक्त वचन पढ़ें, यह पुनर्स्थापना का एक वचन है जिसमें… Read More

5 months ago

उत्पत्ति- ३:१९ और नीतिवचन- १६:१८

आज का परमेश्वर का वचन स्वय को विनम्र बनाना क्योंकि आज की सुबह प्रभु हमे याद दिलाते है की हम… Read More

5 months ago

यहूदा- १:१-२५

प्रभु की स्तुति हो और उसके प्रिय पुत्र की। आमेनआज का वचन उस विश्वास के बारे में जानने और विश्वास… Read More

5 months ago

१ कुरिन्थियों- ६:९ और २ कुरिन्थियों ४:७-९

प्रभु की स्तुति हो!प्रभु का प्रेम और पवित्र आत्मा की सहभागिता हम सब के साथ बनी रहे।आज के समय में… Read More

5 months ago

मत्ती – २०:२०-२८

प्रभु की स्तुति हो हालेलुया! आज का वचन एक सुंदर वचन है जो हमें सिखाता है कि विनम्रता और सेवा… Read More

5 months ago

मरकुस -१०:१७-२२ और २८-३१

प्रभु की स्तुति हो!उपरोक्त अध्याय और वचन उन सभी के लिए एक दिलचस्प समझ और व्यावहारिक दृष्टिकोण प्रदान करती है… Read More

5 months ago

१ कुरिन्थियों- १५:३३

धन्य है प्रभु का नाम! हम धोखे से भरी दुनिया में रहते हैं।जो कुछ भी हम देखते हैं या सुनते… Read More

5 months ago