भजनसंहिता ९१:३

भजनसंहिता ९१:३

वह तो तुझे बहेलिये के जाल से, और महामारी से बचाएगा | भजनसंहिता ९१:३

भजनसंहिता ९१:३
भजनसंहिता ९१:३

Psalm 91 Book 

यह बहोत हे निश्चित है की परमेश्वर सारी बातो को अपने काबू में रखे हुए है |

क्यूंकि हमारा परमेश्वर जो करुणा के सिंहासन पर विराजमान है, उसने हमे हमारे शत्रुओंपर विजय दिलाया है |

आज और हमेशा की लिए वह हमारा रक्षक है |

हमारा परमेश्वर हमे शत्रुओंकी सारी योजनाओंसे बचाएगा |

हमारा परमेश्वर यह सब बाते हमारे लिए करेगा क्योंकी हम उस के बच्चे है और वह हमसे प्रेम करता है |

दुष्ट की योजनाए कभी भी सफल नहीं होंगी |

जितने हथीयार हमारी हानि के लिए बनाये जायँगे उनमेसे कोई भी सफल नहीं होगा |

परमेश्वर ने हमारे लिए योजना बनायीं है |

परमेश्वर ने हमारे लिए अच्छा मार्ग रखा है और वह हमे धर्म क मार्गो में अगुवाई करता है |

बहेलिया हमारे सामने जाल बिछाता है ताकि वह हमे उसमें फसा सके |

बहेलिया हमे उलझन में डालता है, वह हमे बहेकता है |

लेकिन हमारा पिता जो की सारी बातें जानता है, हमे उन विप्पतियोसे बचाता है |

हमारा परमेश्वर हमारे पास आता है और हमारी मदत करता है |

वह हमे बुद्धि देता है, जिस वजह से हम बहेलिये के जाल से निकल सकते है |

हमारा प्राण उस पंछी की तरह है जो जाल में से बच निकलता है | जाल टूट गया है, और हम बच गए है |

परमेश्वर हमे सामर्थ प्रदान करता है ताकि हम बहेलिये के जाल से बच निकले |

हमारा शत्रु हमे महामारी से मारना चाहता है |

लेकिन वह भूल गया है की हमारा परमेश्वर चंगाई देनेवाला है |

हमारा परमेश्वर यहोवा राफा है |

हमारे परमेश्वर यीशु मसीह ने कलवारी क्रूस पे सारी बीमारियों के सामर्थ को कुचल दिया है |

यीशु के कोड़े खाने से हम लोगो को चंगाई मिली है |

महामारी को हमसे दूर जाना होगा | मेरे शत्रुओंकी सारी योजनाए अब विफल हो गयी है |

मेरा शत्रु हारा हुआ है | में मेरे परमेश्वर के हाथो में सुरक्षित हु |

धन्यवाद पिता |

प्रार्थना भजनसंहिता ९१:३

हे हमारे स्वर्गीय पिता, हम आप का धन्यवाद करते है की आपने हमे बहेलिये के जाल से छुड़ाया है| धन्यवाद आपने उस जाल को तोड़ दिया है, और अब हम उकाब के सामान आसमान में उड़ सकते है| धन्यवाद आपने हमे महामारी से बचाया है | सारी महिमा आपको देते है | हमे हमेशा आप सुरक्षित रखना | यह प्रार्थना हम यीशु के नाम से करते है – आमेन

समर्पण थोरात 

Psalm 91 Book 

कुछ और ब्लॉग जो आप पढ़ सकते है।

क्रिसमस डे क्यों मनाया जाता है ?

हिंदी बाइबिल स्टडी

भजन संहिता 117 मे क्या विशेषता है?

1 thought on “भजनसंहिता ९१:३”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *