व्यवस्थाविवरण-३३:२५-२९

Vyvsthavivaran 33
Spread the love

२५ तेरे जूते लोहे और पीतल के होंगे, और जैसे तेरे दिन वैसी ही तेरी शक्ति हो:

Advertisement

२६ हे यशूरून, ईश्वर के तुल्य और कोई नहीं है, वह तेरी सहायता करने को आकाश पर, और अपना प्रताप दिखाता हुआ आकाशमण्डल पर सवार हो कर चलता है:

२७ अनादि परमेश्वर तेरा गृहधाम है, और नीचे सनातन भुजाएं हैं: वह शत्रुओं को तेरे साम्हने से निकाल देता, और कहता है, उन को सत्यानाश कर दे:

२८ और इस्राएल निडर बसा रहता है, अन्न और नये दाखमधु के देश में याकूब का सोता अकेला ही रहता है; और उसके ऊपर के आकाश से ओस पड़ा करती है:

२९ हे इस्राएल, तू क्या ही धन्य है! हे यहोवा से उद्धार पाई हुई प्रजा, तेरे तुल्य कौन है? वह तो तेरी सहायता के लिये ढाल, और तेरे प्रताप के लिये तलवार है; तेरे शत्रु तुझे सराहेंगे, और तू उनके ऊंचे स्थानों को रौंदेगा:

देखो परमेश्वर के वचन को निहारें जो आपको हर स्थिति में बचाव और मजबूत करने में सक्षम है। यह वचन एक ऐसी स्थिति में मदद के लिए एक ठोस पुकारना है जहाँ आप अपने आप को को असहाय पाते हैं और सिर्फ प्रभु आपकी शरण है और मदद करने के लिए और आपको बचाने और आपकी सहायता करने के लिए नीचे उतरेगा और आप के विरोधियों से बचाएगा। आमेन
यह एक बहुत ही शक्तिशाली वचन है, जो वास्तव में महान लोगों के लिए एक असंभव स्थिति में आपको बचाने के लिए स्वर्ग से सहायता लाता है, अपने लोगों के लिए उसका प्यार इजरायल है और हम धन्य है कि हमारे पिता की तरह एक परमेश्वर है जो जिनकी आज्ञा पर प्रभु के मेजबान मुसीबत के दिन में आप की रक्षा करें
आमेन ।


हमें उसके साथ सच्चाई और विनम्रता के साथ खड़े होना सीखना चाहिए क्योंकि उसका वचन कहता है कि वह विनम्र को अनुग्रह देता है लेकिन गर्व का विरोध करता है। आमेन ।

प्रभु आशिषित करे
पासवान ओवेन
——————————————————
मत्ती-४:४ – उस ने उत्तर दिया; कि लिखा है कि मनुष्य केवल रोटी ही से नहीं, परन्तु हर एक वचन से जो परमेश्वर के मुख से निकलता है जीवित रहेगा

Vyvsthavivaran 33
Vyvsthavivaran 33

Psalm 91

समर्पण थोरात

यीशु मसीह

क्रिसमस डे क्यों मनाया जाता है

हिंदी बाइबिल स्टडी


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *